Tweets from PFL News
क्योंकि सच को जरूरत थी
शुक्रवार, 23 फरवरी 2024

कोरोना को लेकर राजस्थान में एडवाइजरी जारी

426 days ago   -    161 views

PFL News - कोरोना को लेकर राजस्थान में एडवाइजरी जारी

PFL NEWS HEALTH DESK- दुनिया में एक बार फिर से कोरोना ने दस्तक दे दी है.चीन सहित कई देशों में हालात खराब होते जा रहे हैं.वही भारत में भी कोरोना को लेकर बैठक की गई है,और देश की जनता से सतर्कता बरतने की अपील की गई है. चिकित्सा विभाग ने जनहित में फैसला लेते हुए कोरोना प्रोटोकॉल को लागू कर दिया है.जिसमें स्क्रीनिंग और जीनोम सीक्वेंसिंग को अनिवार्य कर दिया गया है.
स्क्रीनिंग और जीनोम सीक्वेंसिंग हुई अनिवार्य

विभाग की दी जानकारी के मुताबिक इस समय चीन, अमेरिका, ब्राजील, जापान, कोरिया में कोविड-19 के मामले बढ़ते जा रहे हैं.जिसको लेकर राजस्थान सरकार ने एडवाइजरी जारी कर दी है.पहले की तरह ही स्क्रीनिंग फिर से लागू कर दी गई है.जिसमें सर्विलांस के जरिए घर-घर सर्वे का रोगियों को पहचाना जाएगा और आगे की जांच की जाएगी.ओपीडी में आने वाले मरीजों का सैंपल लेकर कोरोना की जांच कराई जाएगी और संक्रमित लोगों को आइसोलेट कर उनका इलाज किया जाएगा.

कोरोना से जंग की तैयारी, यूपी से महाराष्ट्र तक बैठकों का दौर; पीएम मोदी  करेंगे रिव्यू मीटिंग - Corona virus in INDIA pM MODI china america south  korea japan india covid 19

जीनोम सीक्वेंसिंग को अनिवार्य करते हुए चिकित्सा विभाग का कहना है कि प्रदेश के सभी मेडिकल क़ॉलेज और प्राइवेट संस्थानों में संपर्क स्थापित कर कोरोना मरीजों के सैंपल लेने का इंतजाम करें और उनके इलाज की व्यवस्था करें. इसके अलावा भीड़भाड़ वाले इलाकों और सार्वजनिक जगहों जैसे रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, सब्जी मंडी, स्कूल-कॉलेज के अलावा कई जगहों पर रेंडम सैंपल भी करवाई जाएगी.जिससे संदिग्ध मरीजों को अलग कर उनका इलाज करवाया जाएगा.
रैंडम सैंपलिंग के भी निर्देश

MP Corona Update Panic Again Due To Corona In MP 7 New Active Patients  Found Health Department Issued Advisory ANN | MP Corona News: मध्यप्रदेश  में कोरोना लेकर फिर से दहशत, मिले
इसके अलावा ओपीडी में आने वाले मरीजों की पहचान की जाएगी और उनका इलाज किया जाएगा.चिकित्सा विभाग ने निर्देश जारी करते हुए कहा है कि केंद्र और राज्य सरकार की पूर्व में जारी की गई एडवाइजरी के सभी नियम फिर से लागू किए जाएंगे.जिसमें रेंडम सैंपलिंग, स्क्रीनिंग टेस्ट से लेकर डिस्चार्ज तक की व्यवस्था शामिल है.इसके अलावा हर जिले में जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में समय-समय पर समीक्षा बैठक की जाएगी.जिसमें पुलिस, पंचायती राज महिला और बाल विकास विभाग, नगर निगम के अधिकारी शामिल रहेंगे.

COVID Third Wave: 'अक्टूबर में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर', गहलोत सरकार  ने केंद्र को किया सतर्क - Republic Bharat

साथ ही चिकित्सा विभाग ने रिस्पांस टीम को एक्टिव रहने के निर्देश दिए हैं.सभी सरकारी अस्पतालों में लॉजिस्टिक और दवाइयों की उपलब्धता को सुनिश्चित करवाने के भी निर्देश दिए हैं.इसके अलावा विभाग ने यह भी कहा है कि लोगों में जन जागरूकता बनी रहे इसके लिए घर-घर जाकर सर्वे कर इसका प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा.

Tags COVID RAJASTHAN CORONA CASES TRENDING NEWS COVID NEWS RAJASTHAN INDIA HEALTH WHO

संबंधित पोस्ट