Tweets from PFL News
क्योंकि सच को जरूरत थी
शुक्रवार, 23 फरवरी 2024

'योजना भवन' के बेसमेंट में मिले पैसे का राज नहीं खोल रहा भ्रष्टाचारी अफसर, बार-बार बदल रहा बयान

274 days ago   -    116 views

PFL News - 'योजना भवन' के बेसमेंट में मिले पैसे का राज नहीं खोल रहा भ्रष्टाचारी अफसर, बार-बार बदल रहा बयान

सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग (DOIT) से सस्पेंड जॉइंट डायरेक्टर वेद प्रकाश यादव को बुधवार को एसीबी कोर्ट में पेश किया गया। 'भ्रष्टाचार का खजाना' रखने वाले वेद प्रकाश को दो दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है। एसीबी ने रिमांड की डिमांड करते हुए तर्क दिया कि वेद प्रकाश सवालों का जवाब सही से नहीं दे रहा है। जांच में सहयोग भी नहीं कर रहा है। बार-बार बयान बदल रहा है।

इससे पहले तीन दिन के रिमांड के दौरान एसीबी वेद प्रकाश को उसके ऑफिस लेकर गई। यहां अहम दस्तावेज मिले। इनके आधार पर एसीबी लगातार वेद प्रकाश से जवाब मांग रही है।

DOIT की ओर से पिछले 5 साल में जो भी खरीदारी हुई। सभी वेद प्रकाश की मौजूदगी और स्वीकृति में हुई है। एसीबी उन कम्पनियों की जानकारी वेद प्रकाश से मांग रही है, लेकिन वह कोई जानकारी नहीं दे रहा है। वहीं, वेद प्रकाश के आवास और घर से मिले मोबाइल, लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के भी पासवर्ड वेद प्रकाश ने एसीबी को नहीं दिए हैं। इस पर सभी उपकरणों को एसीबी ने एफएसएल के पास भेजे हैं।

मौखिक जवाब लिखित में नहीं दे रहा

एसीबी सूत्रों के अनुसार, वेद प्रकाश यादव से हर दिन 5 से 6 घंटे अलग-अलग समय में पूछताछ की जा रही है। उसने मौखिक रूप से कई लोगों के नाम और पद की जानकारी दी। लिखित जवाब मांगने पर आरोपी बार-बार मुकर रहा है। उसे डर है कि अगर उसने रिश्वत की प्रक्रिया एसीबी को समझा दी तो कई बड़े सरकारी अधिकारियों और कम्पनी के प्रतिनिधियों को सलाखों के पीछे जाना होगा।

यह है पूरा मामला

19 मई की रात जयपुर में सचिवालय के ठीक पीछे योजना भवन के बेसमेंट की बंद पड़ी अलमारी से 2.31 करोड़ रुपए से ज्यादा की नकदी और एक किलो सोना बरामद हुआ था। अलमारी में रखे ट्रॉली सूटकेस में 2000 और 500 के नोट थे। अलमारी से 2000 के 7,298 और 500 रुपए के 17,107 नोट मिले थे। सोने की सिल्ली पर मेड इन स्विट्जरलैंड लिखा था। सोने की कीमत करीब 62 लाख बताई जा रही है।

Tags @RAJASTHAN @CP JOSHI @JAIPUR #PFL NEWS

संबंधित पोस्ट