Tweets from PFL News
क्योंकि सच को जरूरत थी
बुधवार, 24 जुलाई 2024
ब्रेंकिग
न्यूज 

कोस्टगार्ड का पेपर हल करने के लेते थे 15 लाख:कंप्यूटर लैब को किराए पर लिया, ऐप से करते हैक; गैंग के 6 सदस्य गिरफ्तार-रविंद्र भाटी को धमकी देने वालों का हो एनकाउंटर:मारवाड़ राजपूत सभा के अध्यक्ष बोले- गोगामेडी को खो चुके; जेड श्रेणी की मिले सुरक्षा

आनंदपाल परिवार की लड़की ने रची ठेहट मर्डर की साजिश - विदेश में बैठकर बनाया प्लान, अगला टारगेट था ठेहट गैंग का विजय भार्गव

495 days ago   -    543 views

PFL News - आनंदपाल परिवार की लड़की ने रची ठेहट मर्डर की साजिश - विदेश में बैठकर बनाया प्लान, अगला टारगेट था ठेहट गैंग का विजय भार्गव

आनंदपाल परिवार की लड़की ने रची ठेहट मर्डर की साजिश:विदेश में बैठकर बनाया प्लान, अगला टारगेट था ठेहट गैंग का विजय भार्गव

राजू ठेहट के मर्डर मैं रोज़ नए खुलासे हो रहे हैं  इस केस के 24वें आरोपी के रूप में आनंदपाल गैंग से जुड़े शक्ति सिंह की गिरफ्तारी हुई है। पूछताछ में पुलिस को कई चौंकाने वाली जानकारी मिली है। सामने आया है कि इनका अगला निशाना ठेहट गैंग का सरगना विजय भार्गव था। उसे मारने के लिए ही शक्ति सिंह ने अपने घर में हथियारों को छुपा रखा था।

पूछताछ में खुलासा हुआ है कि ठेहट को मारने के पीछे आनंदपाल के परिवार की एक लड़की भी शामिल थी। उसने दुबई में बैठकर आनंदपाल के करीबी सुभाष बराल के साथ मिलकर ठेहट को मारने का जिम्मा लॉरेंस बिश्नोई गैंग को सौंपा था। पुलिस ने अभी तक उस लड़की के नाम का खुलासा नहीं किया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि वह लड़की आनंदपाल की बेटी चीनू भी हो सकती है। शक के दायरे में वह भी है।


ठेहट गैंग का सरगना है विजय भार्गव
विजय भार्गव और शक्ति सिंह दोनों ही सीकर के रानोली इलाके के रहने वाले हैं। विजय ठेहट गैंग और शक्ति सिंह आनंदपाल गैंग का सरगना है। दोनों ही लंबे समय से एक-दूसरे को मारने की फिराक में थे। विजय भार्गव पर किडनैप जैसे कई मामले दर्ज हैं। वहीं शक्ति सिंह पर करीब 8 मामले दर्ज हैं।
सबसे पहले बात आनंदपाल गैंग के शक्ति सिंह की...

जयपुर में दोस्त से मिलने आया, पकड़ा गया
सीकर पुलिस ने 15 मार्च को शक्ति सिंह को जयपुर के कालवाड़ इलाके से गिरफ्तार किया था। एसपी करण शर्मा ने बताया कि शक्ति‎ सिंह ठेहट हत्याकांड के बाद से फरार था। शक्ति‎ सिंह जयपुर के कालवाड़ रोड‎ 200 फीट बाइपास की तरफ अपने किसी‎ परिचित से मिलने आया था। शक्ति का जयपुर‎ में सिरसी रोड इलाके में एक फ्लैट भी है।

कई और बदमाशों के नाम आएंगे सामने
शक्ति सिंह के पास से 4 पिस्टल, 6 मैगजीन, 1 देसी कट्टा , 12 बोर दुनाली बन्दूक और 104 कारतूस बरामद किए गए हैं। उसे फरार‎ चल रहे रोहित गोदारा ने ही हथियार उपलब्ध‎ करवाए थे। एसपी ने बताया कि आरोपी का काम शूटर्स को हथियार, गाड़ियां और लोकल संसाधन उपलब्ध करवाना था। ठेहट मर्डर में यह 24वीं गिरफ्तारी है। एसपी ने बताया कि मामले में और भी कई बड़े बदमाशों के नाम सामने आए हैं। शक्ति सिंह को गुरुवार को कोर्ट में पेश कर 5 दिन के रिमांड कर लिया गया है।
ठेहट गैंग के सरगना को मारने वाला था शक्ति सिंह
पुलिस की मानें तो पूछताछ में शक्ति सिंह ने खुलासा किया है कि उसका अगला टारगेट ठेहट गैंग का सरगना विजय भार्गव था। विजय को मारने के लिए रोहित गोदारा ने उसे हथियार उपलब्ध करवाए हैं। शक्ति सिंह ने हथियारों की सप्लाई लेकर अपने घर में छुपाया था। उसने बाकायदा घर की दीवार में लकड़ी की अलमारी भी बनवाई। इस अलमारी से ही पुलिस ने हथियार बरामद किए हैं। विजय भार्गव राजू ठेहट गैंग का सरगना है।

दुबई में हुई थी ठेहट काे मारने की प्लानिंग
पूछताछ में सामने आया है कि राजू ठेहट मर्डर के तार दुबई से जुड़े हुए हैं। ठेहट को मारने के लिए आनंदपाल के परिवार का बेहद करीबी सदस्य शामिल था। उसने दुबई में बैठकर भारत में आनंदपाल के खास दोस्त सुभाष बराल से बात की थी।

दोनों ने मिलकर कब और कैसे ठेहट को मौत के घाट उतारना है? इसका पूरा प्लान बनाया था। दोनों ने मिलकर मर्डर की पूरी जिम्मेदारी लॉरेंस गैंग को सौंपी थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है कि आखिर सुभाष बराल के साथ कौन मिला हुआ था?

Tags raju thehat raju thehat latest news rajasthan latest news

संबंधित पोस्ट