Tweets from PFL News
क्योंकि सच को जरूरत थी
शुक्रवार, 14 जून 2024
ब्रेंकिग
न्यूज 

कोस्टगार्ड का पेपर हल करने के लेते थे 15 लाख:कंप्यूटर लैब को किराए पर लिया, ऐप से करते हैक; गैंग के 6 सदस्य गिरफ्तार-रविंद्र भाटी को धमकी देने वालों का हो एनकाउंटर:मारवाड़ राजपूत सभा के अध्यक्ष बोले- गोगामेडी को खो चुके; जेड श्रेणी की मिले सुरक्षा

गुड़ामालानी विधायक कांग्रेस सरकार के मंत्री हेमाराम चौधरी ने लिया राजनीती से सन्यास, खड़गे को लिखा पत्र, राजनीति छोड़ने की बताई यह वजह

231 days ago   -    127 views

PFL News - गुड़ामालानी विधायक कांग्रेस सरकार के मंत्री हेमाराम चौधरी ने लिया राजनीती से सन्यास, खड़गे को लिखा पत्र, राजनीति छोड़ने की बताई यह वजह

 

 

राजस्थान के अंदर सभी पार्टियों के बीच टिकटों के लिए चल रही खींचतान के बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है गुड़ामालानी से विधायक व कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी ने सक्रिय राजनीति से संन्यास ले लिया है | हेमाराम चौधरी ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को पत्र लिखा है |

क्या लिखा हेमाराम चौधरी ने –

कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी ने मल्लिकार्जुन खड़गे को पत्र लिखते हुए कहा है कि जीवन में मेैं ऐसे मोड़ पर खड़ा हूं जहां खुद को सक्रिय राजनीतिक जीवन के लिए पूरी तरह से समर्पित करने में असमर्थ हूं, मैंने यह भी माना है कि जिस तरह से कांग्रेस पार्टी ने मुझे कम उम्र में बड़ी जिम्मेदारी दी थी | वैसे ही मुझे आगे आने वाली पीढ़ी को मौका देना चाहिए | हेमाराम चौधरी ने यह भी लिखा है | कि मेरा अपना मानना है कि उम्र दराज और वरिष्ठ राजनेता को नैतिक आधार पर युवाओं को प्रेरित करना चाहिए | उन्हें राजनीतिक स्थान दें, और अपने-अपने क्षेत्र में उन्हें आगे बढ़ने का मौका दें | चौधरी ने कहा कि आगे आने वाले विधानसभा चुनाव में में प्रत्याशी के रूप में नहीं बल्कि एक साधारण कार्यकरता के रूप में कांग्रेस पार्टी में और इस विधानसभा चुनाव में हिस्सा लूंगा | इसलिए गुड़ामालानी से किसी नए कार्यकर्ता को मौका मिले |

हेमाराम चौधरी -

आपकी जानकारी के लिए बता दें की हेमाराम चौधरी 6 बार विधायक और 2 बार मंत्री रहे हैं | और फिलहाल यह गुड़ामालानी से विधायक और राजस्थान सरकार में वन मंत्री भी हैं | आप सभी को यह भी पता है | कि राजस्थान के अंदर ही नहीं हर पार्टी में अलग-अलग गुट बने हुए रहते हैं | तो तो उसी प्रकार राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के अंदर हेमाराम चौधरी सचिन पायलट गुट के नेता माने जाते हैं |

पहले भी ऐसा हुआ था -

आपकी जानकारी के लिए बता दे की इससे पहले भी हेमाराम चौधरी ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया था | उसके बाद हुआ कुछ ऐसा कि उनके समर्थक उन्हें मनाने में जुटे थे | बीते दिन लाखों समर्थको ने खुद एक बड़ी बैठक बुलाकर हेमाराम को मनाने की कोशिश की थी | हेमाराम चौधरी ने कहा था कि वह इस बार इसलिए चुनाव नहीं लड़ सकते की मैंने पिछली बार जनता से जो वादे किए थे | वह पूरे नहीं कर पाया मेरे द्वारा जनता से जो वादे किए गए थे वह पूरे नहीं हो पाए | इसलिए मेरा चुनाव लड़ना सही नहीं है | मेरे द्वारा कई प्रोजेक्ट शुरू करने की बात कही थी | लेकिन वह नहीं हो पाए इस वजह से मैं चुनाव नहीं लड़ सकता लेकिन कांग्रेस पार्टी में एक आम कार्यकर्ता की तरह कार्य करता रहूंगा |

 

यह भी पढे :-

गोविन्द सिंह डोटासरा और ओमप्रकाश हुडला पर ED की रेड से बड़ी परेशानिया, राजस्थान में प्रवर्तन निदेशालय का बड़ा एक्शन

असम के राज्यपाल से मिलने पहुंची वसुंधरा राजे

सेना से सरकारी योजनाओं के प्रचार मामले में, कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा

Tags hemaram choudhary congress party congress sarkar rajasthan vidhansabha

संबंधित पोस्ट